! मेरी अभिव्यक्ति !

तू अगर चाहे झुकेगा आसमां भी सामने, दुनिया तेरे आगे झुककर सलाम करेगी . जो आज न पहचान सके तेरी काबिलियत कल उनकी पीढियां तक इस्तेकबाल करेंगी .

670 Posts

2139 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12172 postid : 807605

''दीपक तले अँधेरा''

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सुरक्षा व्यवस्था से नाखुश पीएम की पत्नी

देश ने जब से नरेंद्र मोदी जी को प्रधानमंत्री के रूप में पाया है तब से रोज़ नए रिकॉर्ड टूट रहे हैं कभी सबसे जबरदस्त बहुमत पाने वाली सरकार तो कभी विपक्ष के रूप में कांग्रेस की बदतर स्थिति का रिकॉर्ड और भी न जाने क्या क्या अभी बनेगा और टूटेगा किन्तु एक रिकॉर्ड जो शायद हमेशा के लिए हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के साथ जुड़ा रहेगा और वह यह कि ये भारत के ऐसे पहले प्रधानमंत्री है जिन्होंने अपनी पत्नी के नाम का इस्तेमाल किया केवल यहाँ के कानून के दबाव के कारण और पत्नी को कभी यह महसूस नहीं होने दिया कि वह देश के एक बेहद जनप्रिय और सभी जगह जनता से उसकी आकांक्षाओं को पूरा करने वाले प्रधानमंत्री की पत्नी हैं

PM Narendra Modi takes Sydney by storm, promises euphoric diaspora resurgent India

Sydney: In a replay of the crowd and the euphoria at New York’s Madison Square Garden, Indian Prime Minister Narendra Modi was Monday cheered lustily by an over 16,000-strong gathering of the Indian diaspora at Sydney’s Allphones Arena, where he promised to fulfill their expectations of a resurgent India.

हमारे प्रधानमंत्री जी अपने वादे पूरे करने के प्रति कितने दृढ निश्चयी हैं यह उनकी पत्नी द्वारा हताशा में देश के कानून ”सूचना के अधिकार ” में यह जानकारी मांग लेने से साफ़ हो ही गया है .इसे ही शायद कहा गया है -

”दीपक तले अँधेरा ”.


शालिनी कौशिक

[कौशल ]



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

jlsingh के द्वारा
November 30, 2014

हमारे प्रधानमंत्री जी अपने वादे पूरे करने के प्रति कितने दृढ निश्चयी हैं यह उनकी पत्नी द्वारा हताशा में देश के कानून ”सूचना के अधिकार ” में यह जानकारी मांग लेने से साफ़ हो ही गया है .इसे ही शायद कहा गया है – ”दीपक तले अँधेरा ”. और उनके एस पी जी श्री प्रसाद की छुट्टी भी इसी आर टी आई के सन्दर्भ में देखा जा रहा है….आज उन्होंने कहा है – मैंने घर बार छोड़ा देश सेवा के लिए …यह सन्देश भी यशोदा बेन तक पहुँच ही गयी होगी …इसे कोई मीडिया वाला प्रश्न नहीं उठाता… …समरथ को नहीं दोष गुंसाईं…सादर!

Madan Mohan saxena के द्वारा
November 26, 2014

सोचनीय दशा


topic of the week



latest from jagran